top of page
Learn to Invest !!.png
  • Abhinesh Kumar

कल - आज और कल : कुछ बेहतरीन म्यूच्यूअल फण्ड स्कीम !!!

आज जब एनडीए अपने तीसरे कार्यकाल सम्भाल चुके हैं , भारतीय निवेशकों में ज़बरदस्त उत्साह है। शेयर बाज़ार और उस पर आधारित म्यूच्यूअल फण्ड के कमाल के प्रदर्शन ने सभी को खुश कर दिया है।


2014 में भारतीय सामान्य चुनाव में, भारतीय जनता पार्टी ने 282 सीटें जीतीं, जिससे एनडीए को 543 सीटों वाले लोकसभा में 336 सीटें मिलीं। नरेंद्र मोदी जी ने 26 मई 2014 को भारत के 19वें प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ग्रहण की । उसके बाद से शेयर बाज़ार, भारतीय अर्थ व्यवस्था और बाज़ार से संबंधित म्यूच्यूअल फण्ड ने लगातार फ़ायदा दिया है। पिछले 10 सालों में निफ़्टी 50 इंडेक्स ने 7200 से 22000 की छलांग लगाते हुए निवेशकों को ज़बरदस्त मुनाफ़ा कमाने का मौक़ा दिया। म्यूच्यूअल फण्ड कंपनियों ने भी ऐसे में बेहतरीन परफ़ॉर्म्स दिखाते हुए निवेशकों को अच्छा फ़ायदा पहुँचाया।


हमने पिछले 10 साल के एनडीए कार्यकाल के दौरान मुख्य म्यूच्यूअल फण्ड स्कीम की एक चार्ट ऊपर प्रस्तुत किया है। इस चार्ट में एनालिस्ट एवं और दूसरे डेटा के हिसाब से हमने फंड्स को तीन हिस्सों में बाँट दिया है :


  • Add ( Super Buy) : यह उन स्कीमों के नाम है जो अगले कार्यकाल तक के लिये बेहतरीन ख़रीद हो सकते हैं



  • Add : यह उन स्कीमों के नाम हैं जो हमारे कंपनी के पसंदीदा सिलेक्शन हैं।



  • Weedout : यह उन स्कीमों के नाम हैं जो हमारे अनुसार निवेश के लिए अभी टालना उचित है। अगर आपने इनमें से किसी स्कीम में निवेश कर रखा है तो उसे आप बदल भी सकते हैं




Note : ऊपर दिये गये सारे स्कीम हमारे यहाँ के Aggressive एवं Very Aggressive निवेशकों के लिए ही योग्य हैं।


एनडीए के तीनों जीत के बाद वाले साल में TOP and WORST म्यूच्यूअल फण्ड स्कीमों का लिस्ट नीचे देखें । इस लिस्ट में अभी FY 24-25 का परफ़ॉर्मनेस चार्ट उपलब्ध नहीं है इसलिए हमने FY 23-24 का डेटा प्रस्तुत किया है :


तीनों लिस्ट को देखने से Healthcare & Pharma पर आधारित म्यूच्यूअल फण्ड एक पसंदीदा विकल्प बनता है । इन सबके अलावा Infrastructure, PSU एवं Consumption पर आधारित म्यूच्यूअल फण्ड स्कीम भी अच्छे विकल्प बनते हैं।


कृपया अपने पोर्टफोलियो के रिव्यू के लिए अपने relationship Manager से बात कर लें और आने वाले भारत के तरक़्क़ी का हिस्सा बनें। चर्चा के दौरान अपने निवेश से संबंधित रिस्क को भी अच्छे से समझ लें; ज़रूरत लगे तो अपने रिस्क को थोड़ा कम करने की कोशिश करें। ऐसे में, म्यूच्यूअल फण्ड के हाइब्रिड फण्ड एवं बैलेंस्ड एडवांटेज फण्ड सबसे सही विकल्प है। म्यूच्यूअल फण्ड निवेश से संबंधित रिस्क के बारे में निम्न बातों पर ख़ास ध्यान दें :


  • इक्विटी बाज़ार हमेशा एक तरफ़ की दिशा में नहीं चलती है। इसमें उतार - चढ़ाव दोनों का सामना करना पड़ता है। इसलिए किसी भी तरह की गिरावट में तुरंत परेशान नहीं होना चाहिए

  • ५०% रिटर्न एक बार से ज़्यादा अच्छा है की १२% लगातार मिलता रहे । इसलिए बेवजह रिस्क लेने के बजाए Asset Allocation एवं Hybrid funds में ज़्यादा से ज़्यादा निवेश करना चाहिए।

  • हमारी कंपनी के निवेश की राय देने की एक विधि है - उस विधि के तहत सभी निवेशकों को एक रिस्क वर्ग में बँटा जाता है। निवेशकों के लिए ज़रूरी है कि वह अपने रिस्क वर्ग के अनुसार की स्कीमों का चयन करें


All Data Source : Value Research Online

Please refer : https://www.sebi.gov.in/filings/mutual-funds.html for complete details about any Mutual Fund scheme - SID/ SAI/KIM


Disclaimer : Mutual Fund investments are subject to market risks, read all scheme related documents carefully. The NAVs of the schemes may go up or down depending upon the factors and forces affecting the securities market including the fluctuations in the interest rates. The past performance of the mutual funds is not necessarily indicative of future performance of the schemes. The Mutual Fund is not guaranteeing or assuring any dividend under any of the schemes and the same is subject to the availability and adequacy of distributable surplus. Investors are requested to review the prospectus carefully and obtain expert professional advice with regard to specific legal, tax and financial implications of the investment/participation in the scheme.


Please visit https://www.infirupee.com/ to reach us or contact us for further details





Commentaires


bottom of page